वेबसइट हैकिंग से कैसे बचे | How to protect your website from hacking Attacks

1
68
hacking

इंटरनेट पर हर एक मिन में हजार से लाखो लोग सिर्फ ये सर्च की वेबसाइट कैसे हैक की जाए
और यही सेम रिजल्ट हमे व्हाट्सअप और फेसबुक से रिलेटेड देखने को मिलेगा इसका मतलब ये हुआ की लोग हैकिंग(hacking) में ज्यादा दिलचस्पी रखते है |

लेकिन अगर आप एक ब्लॉगर हो या फिर बोहत जल्द ब्लॉग्गिंग स्टार्ट करने वाले हो तो आपने स्टार्टिंग
से ही कुछ खास बातो का खयाल रखना चाइए नहीं तो जैसे जैसे आपक ब्लॉग बड़ा बड़ा होता जाएगा
तो आपके वेबसाइट पर हैकिंग अटैक होने के चान्सेस बढ़ते जाएंगे स्टार्टिंग से ही कुछ बातो का खयाल रखना
चाहिए है |

Hacker
Hacker

Gmail id

सबसे पहले तो हमें ये बात जानना चाहिए की वेबसाइट सिक्योर करने के लिए हमें छोटी छोटी
बातो का ख़याल रखना चाहिए जिसमे से एक है हमारी Gmail ID
अब आप बोलेंगे की इसमें Gmail ID का क्या लिंकअप है |
तो आप जो भी वेबसाइट बनाएंगे वो हमारे Gmail Id से बनी होती है |
और फिर हैकर हमारे इसी gmail id के हेल्प से आपकी होस्टिंग , वेबसाइट और डोमिन का पासवर्ड
न्यू सेट कर सकता है | इसलिए अपने वेबसाइट के लॉगिन id और और पासवर्ड हाई सिक्योर रखे |
और लॉगिन लिंक भी जरा हटकर बनाए | ताकि फ्यूचर में आपकी वेबसाइट सिक्योर रहे |

http और https

आप जितने भी websites है आपको कुछ में http देखने को मिलेगा तो कुछ में Https
देखने को मिलेगा जिसको देखने के बाद हम कन्फ्यूज्ड होते है |
सबसे पहले तो हमें http का मतलब जानना चाहिए इसका मतलब होता है Hypertext Transfer Protocol
ये आपको ज्यादातर न्यूज़ , जोक्स ,व्हाट्सप्प मैसेज ऐसे वेबसाइट पर देखने को मिलेगा |
क्युकी हम यहाँ पर न तो किसी तरह की लॉगिन करते है नहीं ऑनलाइन ट्रांसेक्शन करे है |
अगर किसी हैकर को पता चल भी गया तो कोई डरने वाली बात नहीं है |
क्युकी वो सब इन्क्रिप्टेड फोम में होता है |
अगर किसी हैकर के हाट में लग भी गया तो उसे कुछ भी समज नहीं आएगा |
जो आपके ब्लॉग पर आपके यूजर के लिए काफी इम्पोर्टेन्ट है |

VPN : का यूज़ करे

हैकिंग से बचने के लिए सबसे बढ़िया तरीका है VPN सिक्योरिटी का यूज़ करना
जिसका मतलब होता है virtual private network ये आपके साइट के लिए मास्क के
जैसा काम करता है और आपके िप एड्रेस को भी सेफ रखता है | जो आपके साइट को ज्यादा
से ज्यादा सिक्योरिटी और privacy रखता है |

एक्साम्प्ल के तौर पर समज लीजिए की अगर आप कोई पब्लिक wifi भी यूज़ करते हो
तो कोई तीसरा इंसान आपके डाटा को रीड नहीं कर सकता |

तो फ्रेंड्स आज के लिए बस इतना ही अगर पोस्ट अछि लगी हो तो हमें निचे कमेंट करके जरूर बताए |

चाइना को फुंग फु सीखने वाले एक भारतीय थे | Facts about Bodhi dharma

Best mobile phones 2018 under 15000 in India

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here